Seroflo 250 Inhaler

सेरोफलो 250 इनहेलर दो दवाओं से मिलकर बना है जो श्वसन नली को खोलता है और सांस लेना आसान बनाता है. इसका उपयोग दमा (सांसों की घरघराहट और सांस फूलना) और क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिसऑर्डर (फेफड़ों की एक बीमारी, जिसमें फेफड़ों में हवा का प्रवाह रुक जाता है) के इलाज में किया जाता है.

आपका डॉक्टर आपको बताएगा कि आपको अपने इनहेलर का इस्तेमाल कितनी बार करने की जरूरत है. इस दवा का असर कुछ दिनों के बाद नोटिस किया जा सकता है, लेकिन कुछ हफ्तों के बाद ही यह अपने अधिकतम तक पहुंचेगा. इस दवा को असरदार होने के लिए इसे नियमित रूप से लिया जाना चाहिए, इसलिए आप इसे लेते रहें, चाहे आपको कोई लक्षण न हों. इसका मतलब है कि दवा का असर हो रहा है. अगर आप इसे लेना बंद कर दें तो दमा और क्रॉनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिसऑर्डर (copd) की स्थिति और भी खराब हो सकता है. अचानक होने वाले अस्थमा अटैक से राहत पाने के लिए इसका इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए. अगर अस्थमा अटैक आ जाता है, तो अपने त्वरित-राहत इनहेलर (रिलीवर) का इस्तेमाल करें. इस दवा से लाभ प्राप्त करने के लिए आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप अपनी इनहेलर तकनीक सही रखें, अन्यथा, यह भी काम नहीं करता है.

इसके सबसे आम दुष्प्रभाव मिचली आना , उल्टी, श्वास नली में संक्रमण मुंह में फंगल इन्फेक्शन, सिर दर्द, आवाज भारी होना , गले में खराश, खांसी, मस्कोस्केलेटल पेन (हड्डियों, मांसपेशियों या जोड़ों में दर्द ) और ह्रदय गति बढ़ना हैं. अगर आपको ये हो जाए, तो इसे लेना बंद न करें बल्कि अपने डॉक्टर से बात करें.. इनहेलर का इस्तेमाल करने के बाद अपने मुंह और गले को पानी से धोकर या अपने दांतों को ब्रश करके आप इनमें से कुछ लक्षणों की रोकथाम कर सकते हैं. दूसरे, दुर्लभ साइड इफेक्ट हैं जो गंभीर हो सकते हैं.. अगर आप उनके बारे में चिंतित हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें. आमतौर पर, आपको अस्थमा को और खराब करने वाली स्थितियों से बचने की कोशिश करना चाहिए और धूम्रपान न करने की कोशिश करना चाहिए.

अगर आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं तो डॉक्टर से पूछें कि यह दवा लेना सुरक्षित है या नहीं. इसे लेने से पहले, अगर आपको किडनी या लिवर से संबंधित कोई बीमारी है तो आपको अपने डॉक्टर को इसके बारे में बताना चाहिए ताकि वह आपको एक उचित डोज़ दे सके.

Updated: 27/06/2021 — 11:19

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *